Header Ads

देश की एकता-अखंडता और भारतीय संविधान


देश की एकता-अखंडता और आपसी भाईचारा को मजबूत करने के लिये भारतीय संविधान को शत-प्रतिशत लागू करना जरुरी है ! वोटबैंक राजनीति के कारण 25% संविधान अभीतक पेंडिंग है !
मैं एक देशभक्त हूँ और बाबा साहब अंबेडकर द्वारा बनाया गया भारतीय संविधान मेरे लिये सर्वोपरि है ! वन नेशन और वन कांस्टिटूशन संविधान की मूल भावना है ! यूनिफार्म एजुकेशन, यूनिफार्म हेल्थकेयर और यूनिफार्म सिविल कोड लागू करना सरकार की फंडामेंटल ड्यूटी है !
आर्टिकल 21 के अनुसार भारत के सभी नागरिकों को स्वास्थ्य का अधिकार (Right to Health) मिलना चाहिये !
आर्टिकल 21A के अनुसार 6-14 वर्ष के सभी बच्चों को समान शिक्षा (Uniform Education) मिलनी चाहिये अर्थात सभी स्कूल का सिलेबस कॉमन होना चाहिये !
आर्टिकल 39 के अनुसार समान कार्य के लिये समान वेतन मिलना चाहिये !
आर्टिकल 44 के अनुशार देश में एक कॉमन सिविल कोड लागू होना चाहिये
आर्टिकल 47 के अनुशार पूरे देश में शराब बंदी होनी चाहिये
आर्टिकल 48 के अनुसार गौहत्या पर पूर्ण प्रतिबंध होना चाहिये
आर्टिकल 312 के अनुसार जजों की नियुक्ति के लिये राष्ट्रीय स्तर पर इंडियन जुडिशल सर्विस (IJS) परीक्षा का आयोजन होना चाहिये
आर्टिकल 343 के अनुसार सभी सरकारी कार्य हिंदी में होना चाहिये
आर्टिकल 348 के अनुसार हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में हिंदी का प्रयोग होना चाहिये
आर्टिकल 351 के अनुसार हिंदी को राष्ट्र भाषा घोषित करना चाहिये और 6-14 वर्ष के बच्चों के लिये हिंदी और संस्कृत विषय अनिवार्य होना चाहिये
इसी प्रकार कई अन्य महत्वपूर्ण आर्टिकल या तो लागू नहीं किये गये या आंशिक रूप से लागू किये गये !

No comments